Baba Neem Karoli Chamatkar Katha

जब अचानक गर्मी में ठंडी का मौसम हो गया

गर्मी में अचानक कड़कड़ाती ठंडी का मौसम हो गया होत्रिदत्त शर्मा की बेटी का विवाह 18 जून 1973 को होना था। 15 जून को, शर्मा बाबा का आशीर्वाद लेने के लिए कैंची (नैनीताल के निकट हिमालय …

जब अचानक गर्मी में ठंडी का मौसम हो गया Read More

बनें सो रघुवर सों बनें, कै बिगरे भरपूर

‘बनें सो रघुवर सों बनें’- बात तब की है जब दिल्ली का मुगल बादशाह अकबर शुरुआती हिंदू कत्लेआम और लंपट गिरी वाली हरकतों के बाद अपनी छवि सुधारने के लिए सम्राट विक्रमादित्य के नवरत्नों के तर्ज …

बनें सो रघुवर सों बनें, कै बिगरे भरपूर Read More

साधु अवज्ञा का फल ऐसा-एक सत्यकथा

साधु अवज्ञा का फल ऐसा , जरै नगर अनाथ के जैसा विरक्त सन्यासी साधु की अवज्ञा या अवमानना करने का फल बड़ा ही भयानक होता है। श्री रामचिरतमानस में दी हुयी पंक्तियाँ, “साधु अवग्या कर फलु ऐसा। …

साधु अवज्ञा का फल ऐसा-एक सत्यकथा Read More

दादा, खेमुआ ने आज खाया नहीं

खेमुआ (“दादा खेमुआ ने आज खाया नहीं”) आश्रम में ऐसे कई अवसर आते थे जब जब हम देखते थे कि किसी के भूखे रह जाने पर बाबा कितनी तकलीफ पाते थे। आश्रम का एक कर्मचारी था …

दादा, खेमुआ ने आज खाया नहीं Read More
Baba Neem Karoli Fetaured

मरकर भी पुनः जिन्दा हो गयी श्रीमती सिंह

मरकर भी पुनः जिन्दा हो गयी श्रीमती सिंह श्री नीम करोली बाबा जी के प्रिय भक्त श्री केहर सिंह जी की पत्नी को गंभीर संग्रहणी (इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम-IBS-Irritable Bowel Syndrome) रोग हो गया था। सभी संभव …

मरकर भी पुनः जिन्दा हो गयी श्रीमती सिंह Read More

धर्मो रक्षति रक्षितः