Join Adsterra Banner By Dibhu

कबीर दास के 5 दोहे

कबीर हरि के रुठते, गुरु के शरणै जाय ।कहै कबीर गुरु रुठते , हरि नहि होत सहाय ।।1 अर्थ: प्राणी जगत को सचेत करते हुए कहते हैं – हे मानव । यदि भगवान तुम से रुष्ट …

कबीर दास के 5 दोहे Read More
Sitaram Charan Rati More - Bharat Milap

सीताराम चरण रति मोरे का अर्थ | Sitaram Charan Rati More

“सीताराम चरण रति मोरे अनुदिन बढ़हिं अनुग्रह तोरे!” (‘Sitaram charan rati more Anudin Badhau Anugrah Tore’) सीताराम चरण रति मोरे पद का अर्थ : Sitaram Charan Rati More भरत जी तीर्थराज प्रयाग से प्रार्थना कर रहे …

सीताराम चरण रति मोरे का अर्थ | Sitaram Charan Rati More Read More

चलबा न करे मेड़ा ओदार दे-भोजपुरी मुहावरा

‘चलबा न करे मेड़ा ओदार दे’ ये मुहावरा तब प्रयुक्त होता है जब कोई व्यक्ति किसी वस्तु या सुविधा का प्रयोग इतनी बुरी तरह से करे की उसे क्षतिग्रस्त हो कर दे। सुविधाओं का इस तरह …

चलबा न करे मेड़ा ओदार दे-भोजपुरी मुहावरा Read More

शीघ्र विवाह के लिए चौपाई|Vivah Ke Liye Chaupai

पाणिग्रहण जब कीन्ह महेसा, हिय हरसे तब सकल सुरेसा।वेद मंत्र मुनिवर उच्चरहीं, जय जय जय संकर सुर करहीं।। संभु सहज समरथ भगवाना, एही बिबाह सब विधि कल्याणा। Share Dibhu.com is committed for quality content on Hinduism …

शीघ्र विवाह के लिए चौपाई|Vivah Ke Liye Chaupai Read More

भगवान राम पर दोहे | Ram Dohe

राम नाम जप का महत्त्व पर दोहे: Ram Naam Jap Ka Mahatv राम नाम नरकेसरी, कनक कशिपु कलिकाल। जापक जल प्रहलाद जिमी, पालिहि दलि सुरसाल ।। Ram naam Narkesari, Kanak Kashipu Kalikal।Jaapak jal Prahalad jimi, Paalihi dali …

भगवान राम पर दोहे | Ram Dohe Read More

धर्मो रक्षति रक्षितः