Join Adsterra Banner By Dibhu

Sankalp Mantra : संकल्प मंत्र – हिंदी, English, संस्कृत में

5
(31)

संकल्प मंत्र (Sankalp Mantra) संस्कृत, हिंदी व English में निम्नलिखित है :

संकल्प मंत्र संस्कृत में – Sankalp Mantra in Sanskrit

संक्षिप्त संस्कृत संकल्प मंत्र लिखित में निम्न है :

ॐ विष्णवे नमः ॐ विष्णवे नमः ॐ विष्णवे नमः अद्य श्री ब्रह्मणोऽह्नि द्वितीय परार्धे श्री श्वेत वाराह कल्पै वैवस्वत मन्वन्तरे अष्टाविंशतितमे युगे कलियुगे कलि प्रथमचरणे भूर्लोके जम्बूद्वीपे भारत वर्षे भरत खंडे आर्यावर्तान्तर्गतैकदेशे_________राज्ये , _________ नगरे _______ क्षेत्रे, _______ ग्रामे वा बौद्धावतारे ________  नाम संवत्सरे,_________ मासे _______पक्षे _______तिथौ _______वासरे,_______ गौत्रः,________ शर्मा(ब्राह्मण), वर्मा(क्षत्रिय), गुप्ता (वैश्य), दासो(शूद्र) अहम् मम आत्मनः श्री भगवदप्रीत्यर्थम्‌ यथालब्धोपचारैस्तदीयं पूजनं एवं यथासाध्य व्रतम करिष्ये।”

संकल्प हिंदी में – Sankalp Mantra in Hindi

ॐ भगवान विष्णु को प्रणाम है, प्रणाम है, प्रणाम है! यह ब्रह्माजी के द्वितीय परार्ध का श्री श्वेतवाराह कल्प चल रहा है, जिसमें वैवस्वत मन्वन्तर, २८वें युग में कलियुग के प्रथम चरण में, भूलोक में जम्बूद्वीप में भारतवर्ष के भरतखंड में, आर्यावर्त में भारत नाम के देश के _________ राज्य में,_______नगर में,______ नाम के उपक्षेत्र(शहर में आपका एरिया का नाम या तहसील का नाम) में, _______गाँव में (यहाँ अपने मोहल्ले या सोसाइटी का नाम भी दे सकते हैं), बौद्धावतार के _______संवत्सर में, ________मास में, ________(शुक्ल/ कृष्ण) पक्ष में,_______तिथि  को ________ दिन को, ______ (प्रातः, दोपहर, संध्या काल) काल में, मैं  _________ शर्मा(ब्राह्मण), वर्मा(क्षत्रिय), गुप्ता (वैश्य), दासो(शूद्र) भगवान की प्रसन्नता के लिए जिस प्रकार की भी सामग्री उपलब्ध हो सकी है उससे पूजा एवं यथासाध्य व्रत करूँगा।

सरल संकल्प मंत्र : एक उदाहरण

ॐ भगवान विष्णु को प्रणाम है, प्रणाम है, प्रणाम है! यह ब्रह्माजी के द्वितीय परार्ध का श्री श्वेतवाराह कल्प चल रहा है, जिसमें वैवस्वत मन्वन्तर, २८वें युग में कलियुग के प्रथम चरण में, भूलोक में जम्बूद्वीप में भारतवर्ष के भरतखंड में, आर्यावर्त में भारत नाम के देश के उत्तर प्रदेश राज्य में, वाराणसी नगर में, गोदौलिया नाम के उपक्षेत्र में, दशाश्वमेध घाट में, बौद्धावतार के नल नामक संवत्सर में, चैत्र मास में, शुक्ल पक्ष में, एकादशी  तिथि को बुधवार दिन को, प्रातःकाल में, मैं  प्रशांत शर्मा, भगवान की प्रसन्नता के लिए जिस प्रकार की भी सामग्री उपलब्ध हो सकी है उससे पूजा एवं यथासाध्य व्रत करूँगा।

टिप्पणी: ऊपर दिए गए उदाहरण में स्थान, वर्ष, दिन, समय , नाम आदि अपने अनुसार परिवर्तित कर के ही अपना संकल्प करें।

संकल्प के बारे में यह भी पढ़ें:
संकल्प कैसे किया जाता है|How to do Sankalpa
एकादशी संकल्पमंत्र|Ekadashi Vrat Sankalpam Mantra
संकल्प के पहले पवित्रीकरण-शुद्धिकरण, आचमन भी किया जाता है। इनके बारे में भी इस लिंक में अवश्य पढ़ें

Sankalp Mantra in English

Sankalpa (Vow) Mantra in English is given below:

Om Vishnave Namah!Om Vishnave Namah!Om Vishnave Namah! Ady Brahmano Anhi , Dwitiya Parardhe, Shri Shvet Varah Kalpe, Vaivasvat Manvantare , Ashtavinshatitame, Kaliyuge, Kali Pratham charane, Bhurloke, Jamboodweepe(Name your continent here instead of Jamboodweepe used for Eurasia), _________(Name your country) varshe , __________________(Name your state) rajye , ____________(Name your city) Nagare ,________________(Name your locality) namna gram madhye ,_____ Pramadi (Year 2023 is Nal Samvatsar) naam samvatsare, _____________(Name the month) Maase), __________________________( Name the vexing/waning moon phase as applicable) Pakshe, ___________(Use current date) Tithyau, ________(Give name of day of week) vasare, ________(State your gotra if you do not know use Kashyap gotra) gotram ,_____________(State your name), ______________________ Sharma(use Sharma for Brahman, Verma- Warrior class, Gupta for merchant class and Das for any other working class) Aham Shri Bhagavat Preetyartham ________(State the purpose of your pooja here) poojam evam yathasadhy Vratam karishye!

Sankalpa Example in English

Om Vishnave Namah!Om Vishnave Namah!Om Vishnave Namah! Ady Brahmano Anhi , Dwitiy Parardhe, Shri Shvet Varah Kalpe, Vaivasvat Manvantare , Ashtavinshatitame, Kaliyuge, Kali Pratham charane, Bhurloke, Jamboodweepe, Bharat varshe, Bharat khande, Uttar Pradesh Namna rajye, Varanasi Nagare, Assi namna gram madhye, Nal naam samvatsare, Shravan Maase,Krishn Pakshe, Ashtami Tithyau,Somvasare, Shandily gotram ,Prashant Sharma aham shri Bhagavat Preetyartham poojam evam Yathasadhy Vratam karishye!

Facebook Comments Box

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Dibhu.com is committed for quality content on Hinduism and Divya Bhumi Bharat. If you like our efforts please continue visiting and supporting us more often.😀
Tip us if you find our content helpful,


Companies, individuals, and direct publishers can place their ads here at reasonable rates for months, quarters, or years.contact-bizpalventures@gmail.com


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्मो रक्षति रक्षितः