Shri Chandrashekhar Azad ji

चंद्रशेखर आजाद: शत्रु भी जिसके शौर्य की प्रशंसा करते थे

जब चंद्रशेखर आजाद की शव यात्रा निकली। देश की जनता नंगे पैर, नंगे सिर चल रही थी, लेकिन अहिंसावादियों ने शव यात्रा में शामिल होने से इनकार कर दिया था। एक अंग्रेज सुप्रीटेंडेंट ने चंद्रशेखर आजाद …

चंद्रशेखर आजाद: शत्रु भी जिसके शौर्य की प्रशंसा करते थे Read More
Durgiyana Mandir Amritsar Punjab featured

दुर्गियाना मन्दिर, अमृतसर| Durgiyana Temple, Amritsar

स्वर्णमंदिर से निकाली गयी मूर्तियों को ‘दुर्गियाना मन्दिर’ में रखा गया 1905 तक स्वर्ण मंदिर, एक मंदिर ही था,खालिस गुरुद्वारा नहीं था। अनेक भगवानों की 300 वर्ष प्राचीन मूर्तियां प्रतिस्थापित थीं।1905 में इन्हीं निहंगों और कट्टरवादी …

दुर्गियाना मन्दिर, अमृतसर| Durgiyana Temple, Amritsar Read More
Sharad Purnima

शरद पूर्णिमा

आश्विन माह के शुक्लपक्ष की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा कहा जाता है। शरद पूर्णिमा को ‘रास पूर्णिमा’ (रासलीला पूर्णिमा) भी कहा जाता है। शरद पूर्णिमा की रात्रि पर चंद्रमा पृथ्वी के सबसे निकट होता है और …

शरद पूर्णिमा Read More
Flower in Flame of Deepak

पूजा के दौरान दीपक की लौ में फूल बनने का अर्थ

दीपक की लो में फूल बनने का मतलब है कि, आपकी पूजा आपके ईष्टदेव तक पहुंच रही है, यानि इस प्रकार दीपक की लो में अगर फूल बनता है तो, यह आपकी पूजा आपके ईष्ट तक …

पूजा के दौरान दीपक की लौ में फूल बनने का अर्थ Read More
Mata Sumitra-Ramayan

माता सुमित्रा-एक तेजपुंज

रामचरितमानस या रामायण में सबसे उपेक्षित मगर महत्वपूर्ण किरदार की बात की जाए तो आपके मन में कौन आएगा? ऐसा ही विचार संभवतः आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी के मन में उठा होगा जिस कारण उन्होंने 1920 …

माता सुमित्रा-एक तेजपुंज Read More