Join Adsterra Banner By Dibhu

माँ सरस्वती आरती-1|जय सरस्वती माता

0
(0)

माँ सरस्वती आरती-1|जय सरस्वती माता

Maa Saraswati Arati Lyrics in Hindi | Jai Saraswati Mata

जय सरस्वती माता,मैया जय सरस्वती माता।
सदगुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता॥
जय सरस्वती माता॥

चन्द्रवदनि पद्मासिनि, द्युति मंगलकारी।
सोहे शुभ हंस सवारी,अतुल तेजधारी॥
जय सरस्वती माता॥

बाएं कर में वीणा,दाएं कर माला।
शीश मुकुट मणि सोहे, गले मोतियन माला॥
जय सरस्वती माता॥

देवी शरण जो आए,उनका उद्धार किया।
पैठी मंथरा दासी,रावण संहार किया॥
जय सरस्वती माता॥

विद्या ज्ञान प्रदायिनि, ज्ञान प्रकाश भरो।
मोह अज्ञान और तिमिर का,जग से नाश करो॥
जय सरस्वती माता॥

धूप दीप फल मेवा,माँ स्वीकार करो।
ज्ञानचक्षु दे माता, सब गुण-ज्ञान भरो ॥
जय सरस्वती माता॥

माँ सरस्वती की आरती,जो कोई जन गावे।
हितकारी सुखकारी ज्ञान भक्ति पावे॥
जय सरस्वती माता॥

जय सरस्वती माता,जय जय सरस्वती माता।
सदगुण वैभव शालिनी,त्रिभुवन विख्याता॥
जय सरस्वती माता॥

।।इति श्री सरस्वती माता जी आरती समाप्त।।

Maa Saraswati Arati Lyrics in English Text| Jai Saraswati Mata

Jai Saraswati Mata, Maiya Jai Saraswati Mata।
Sadagun vaibhav shaalini, tribhuvan vikhyaata॥
Jai Saraswati Mata॥

Chandravadani padmaasini, Dyuti mangalakaari।
Sohe shubh hans savaari, atul tejadhaari॥
Jai Saraswati Mata॥

Bayein kar mein veena, Daayein kar maala।
Sheesh mukut mani sohe, gale motiyan maala॥
Jai Saraswati Mata॥

Devi sharan jo aaye, unaka uddhaar kiya।
Paithee Manthara daasi, Raavan sanhaar kiya॥
Jai Saraswati Mata॥

Vidya gyaan pradaayini, gyaan prakaash bharo।
Moh agyaan aur timir ka, jag se naash karo॥
Jai Saraswati Mata॥

Dhoop deep phal meva, maan sveekaar karo।
Gyaan-chakshu de Maata, sab gun-gyaan bharo॥
Jai Saraswati Mata॥

Maa Saraswati ki aarati, jo koi jan gaave।
Hitakaari sukhakaari gyaan bhakti paave॥
Jai Saraswati Mata॥

Jai Saraswati Mata, Jai Jai Saraswati Mata।
Sadagun vaibhav shaalinee, tribhuvan vikhyaata॥
Jai Saraswati Mata॥

।।Thus Shri Maa Saraswati Arati Ends।।

Maa Saraswati divy tejomay roop
माँ सरस्वती दिव्य तेजोमय रूप

माँ सरस्वती आरती वीडियो |जय सरस्वती माता

माँ सरस्वती आरती का प्रभाव| Maa Saraswati Arati Benefits in Hindi

माँ सरस्वती के नियमित आरती पाठ से मन को शांति मिलती है, बुद्धि, विवेक ,चातुर्य का विकास होता है । और आपके जीवन से नकारात्मकता नष्ट होती है। बाधायें दूर होती हैं और आप बुद्धिमान, स्वस्थ, धनवान, समृद्ध और सम्मान को प्राप्त करते हैं। नियमित आरती के प्रभाव से देवी माँ सरस्वती प्रसन्न होती हैं और मनोकांक्षा को पूर्ण करने में सहायक होती हैं।

माँ सरस्वती आरती का महत्व| Maa Saraswati Arati Importance in Hindi

श्री सरस्वती आरती वंदना के समय माँ साक्षात उपस्थित होती हैं और भक्तों की प्रार्थना को सुनती हैं। अतएव आरती के समय उच्छृंखलता का त्याग करके , पूरे मन से , भक्ति भाव से माता सरस्वती की आरती गायें। इससे माता प्रसन्न होकर शीघ्र आपके कर्म बंधन को काटकर आपके प्रगति का मार्ग प्रशस्त करेंगी। आरती खूब मन से, संगीत व वाद्य यंत्रो की ध्वनि के साथ गाना चाहिए।

माँ सरस्वती की आरती कब करें|When To Do Saraswati Arati in Hindi

माँ सरस्वती आरती का पाठ माँ की किसी भी पूजा के उपरांत किया जाता है। फिर भी आरती का विधान तीनो संध्याओं में अर्थात सुबह , दोपहर – मध्यान्ह और संध्या में करने का है। श्रद्धा के अनुसार उपरोक्त किन्ही भी अवसरों पर आप माँ सरस्वती का आरती पाठ कर सकते हैं। अन्य विशेष अवसर जैसे सरस्वती पूजा माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी​ तिथि को वसंत पंचमी का पर्व पर आयोजित की जाती है। इस अवसर पर भी पूजा के उपरांत माँ सरस्वती की आरती गायी जाती है।

माँ सरस्वती से सम्बंधित स्त्रोत पाठ |Maa Saraswati Strotas

Facebook Comments Box

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Dibhu.com is committed for quality content on Hinduism and Divya Bhumi Bharat. If you like our efforts please continue visiting and supporting us more often.😀
Tip us if you find our content helpful,


Companies, individuals, and direct publishers can place their ads here at reasonable rates for months, quarters, or years.contact-bizpalventures@gmail.com


Happy to See you here!😀

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

धर्मो रक्षति रक्षितः