Join Adsterra Banner By Dibhu

Maa Vindhyavasini -Featured

श्री विन्ध्येश्वरी चालीसा | Vindhyachal Chalisa

श्री विन्ध्येश्वरी चालीसा ॥ दोहा ॥ दोहा नमो नमो विन्ध्येश्वरी, नमो नमो जगदम्ब।सन्तजनों के काज में करती नहीं विलम्ब। ॥ चौपाई ॥ जय जय विन्ध्याचल महारानी, आदि शक्ति जग विदित भवानी।सिंहवाहिनी जय जग माता, जय जय …

श्री विन्ध्येश्वरी चालीसा | Vindhyachal Chalisa Read More
Bhagwan Bhairav

श्री भैरव चालीसा|Shri Bhairav Chalisa

श्री भैरव चालीसा(Bhairav Chalisa) अथ श्री भैरव चालीसा (Bhairav Chalisa):- ॥दोहा॥ श्री गणपति, गुरु गौरि पद, प्रेम सहित धरि माथ ।चालीसा वन्दन करों, श्री शिव भैरवनाथ ॥ श्री भैरव संकट हरण, मंगल करण कृपाल ।श्याम वरण …

श्री भैरव चालीसा|Shri Bhairav Chalisa Read More
Khatu Shyam Bhagwan ji-Featured

श्री खाटू श्याम चालीसा | Shri Khatu Shyam Chalisa

श्री खाटू श्याम चालीसा ॥दोहा॥ श्री गुरु चरण ध्यान धर, सुमिरि सच्चिदानन्द।श्याम चालीसा भजत हूँ, रच चैपाई छन्द।। ॥चौपाई॥ श्याम श्याम भजि बारम्बारा, सहज ही हो भवसागर पारा।इन सम देव न दूजा कोई, दीन दयालु न …

श्री खाटू श्याम चालीसा | Shri Khatu Shyam Chalisa Read More
Bhagwan Sury-featured

श्री सूर्य चालीसा-2

श्री सूर्य चालीसा-2 ॥दोहा॥ श्री रवि हरत हो घोर तम, अगणित किरण पसारी।वंदन करू तब चरणन में, अर्ध्य देऊ जल धारी।। सकल सृष्टि के स्वामी हो, सचराचर के नाथ।निसदिन होत तुमसे ही, होवत संध्या प्रभात।। ॥चौपाई॥ …

श्री सूर्य चालीसा-2 Read More
Bhagwan Vishwakarma

श्री विश्वकर्मा जी चालीसा-2

श्री विश्वकर्मा जी चालीसा-2 ॥दोहा॥ विनय करौं कर जोड़कर,मन वचन कर्म संभारि।मोर मनोरथ पूर्ण कर,विश्वकर्मा दुष्टारि॥ ॥चौपाई॥ विश्वकर्मा तव नाम अनूपा।पावन सुखद मनन अनरूपा॥सुंदर सुयश भुवन दशचारी।नित प्रति गावत गुण नरनारी॥ शारद शेष महेश भवानी।कवि कोविद …

श्री विश्वकर्मा जी चालीसा-2 Read More

धर्मो रक्षति रक्षितः