Dibhu.com

All posts by Chhora Ganga Kinarewala

आम भाई इलायची बहन

आम भाई इलायची बहन (मजेदार पुरानी ग्रामीणआँचलिक कहानी) एक था राजा। उसकी सात रानियां थीं। छह को राजा चाहता था, एक को नहीं। चहेती रानियों के लिए बड़े-बड़े बंगले थे। बंगलों में बढ़िया दीवान-खाने थे। अन्दर बहुत-सी हण्डियां और झूमरे थीं। नौकर-चाकर और दास-दासी भी बहुत-से थे। बेचारी अनचहेती रानी के लिए एक टूटा-फूटा-सा झोंपड़ा … Continue reading आम भाई इलायची बहन

गिलहरीबाई की कहानी

गिलहरीबाई की कहानी (मजेदार पुरानी ग्रामीणआँचलिक कहानी) एक बुढ़िया थी। एक बार उसका खाना बनाने का चूल्हा फूट गया| लेकिन चूल्‍हे में से एक गिलहरी निकली| बुढ़िया चकित रह गयी| फिर बुढ़िया ने उस गिलहरी को पाल लिया| बुढ़िया ने गिलहरी के लिए पेड़ पर एक झोली बांध दी और उसमें उसको सुला दिया। घर का … Continue reading गिलहरीबाई की कहानी

सूप से कानवाला राजा

सूप से कानवाला राजा (पुरानी ग्रामीण आँचलिक कहानी) एक राजा था। एक दिन वह शिकार खेलने निकला। शिकार का पीछा करते-करते वह बहुत दूर निकल गया, पर शिकार हाथ लगा नहीं। शाम हो आई। भूख भी जोर की लगी। राजा रास्ता भूल गया था, इसलिए वापस अपने महल नहीं जा सकता था। भूख की बात … Continue reading सूप से कानवाला राजा

कौआ और मैना – अल्लम-टल्लम करता हूं

कौआ और मैना -अल्लम-टल्लम करता हूं (मजेदार पुरानी ग्रामीणआँचलिक कहानी) एक था कौआ, और एक थी मैना। दोनो मे दोस्ती हो गई। मैना भली ओर भोली थी, लेकिन कौआ बहुत धूर्त था।  मैना ने कौए से कहा, “कौए भैया! आओं, हम खेत जोतने चले। अनाज अच्छा पक जायेगा, तो हमको साल भर तक चुगने नही … Continue reading कौआ और मैना – अल्लम-टल्लम करता हूं

टिड्डा जोशी का ज्योतिष्

टिड्डा जोशी का ज्योतिष् (मजेदार पुरानी आँचलिक कहानी) एक थे जोशी। वे ज्योतिष तो जानते नहीं थे, फिर भी दिखावा करके कमाते और खाते थे। एक दिन वे अपने गांव से दूसरे गांव जाने के लिए रवाना हुए। रास्ते में उन्होंने देखा कि दो सफेद बैल एक खेत में चर रहे हैं। उन्होंने यह बात … Continue reading टिड्डा जोशी का ज्योतिष्

error: Content is protected !!